मुझे इन चिरागों से डर लग रहा है

समस्त स्टाफ
कस्तूरबा गाँधी आवासीय बालिका विघालय
मडियाहूँ , जौनपुर

” मुझे इन चिरागों से डर  लग रहा है

 जला देंगे मेरा यह घर लग रहा है ,
 सड़के है रोशन घरो में अंधेरे
 मुझे  यह अजूबा शहर लग रहा है “
हम और हमारे देश के  प्रत्येक नागरिक जब तक यह मिलकर मंथन नही करेंगे तब तक महिलाओ की सुरक्षा सम्भव नही है तो बस कहना है –  मंथन करो ,मंथन करो , मंथन करो ——

Back to campaign

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>